• विवेक, बुद्धि की पूर्णता है। जीवन के सभी कर्तव्यों में वह हमारा पथ-प्रदर्शक है। -- ब्रूचे
  • विवेक की सबसे प्रत्यक्ष पहचान , सतत प्रसन्नता है। -- मान्तेन
  • उपासना के द्वारा विवेक उत्पन्न होता विवेकी होने से क्षणिक वस्तुओं से सुख और आनंद यह दोनों नहीं होते। -- स्वामी दयानंद
  • विवेकी मनुष्य को पाकर गुण सुंदरता को प्राप्त होते हैं। -- चाणक्य
  • अपने विवेक को अपना शिक्षक बना शब्दों का कर्म से और धर्म का शब्दों से मेल कराओ। -- शेक्सपियर
  • शाश्वत विचार ही विवेक है। -- स्वामी रामतीर्थ
  • तुलसी असमय के सखा , धीरज धर्म विवेक।
  • साहित साहस सत्यव्रत , राम भरोसो एक ॥ -- रामचरितमानस
  • विवेक सच्चा ज्ञान जानने में है, कुछ भी नहीं। -- सुकरात
  • ज्ञान भूत है , विवेक भविष्य।
  • जो व्यक्ति विवेक के नियम को तो सीख लेता है पर उन्हें अपने जीवन में नहीं उतारता वह ठीक उस किसान की तरह है, जिसने अपने खेत में मेहनत तो की पर बीज बोये ही नहीं।- शेख सादी