मुख्य मेनू खोलें

कला

प्रोसेस ऑफ़ क्रिएटिंग थिंग्स ऑफ़ एक्सट्रिन्सिक वैल्यू थ्रू इमोशनल और एस्थेटिक

कलासंपादित करें

  • एक महान कलाकार हमेशा अपने समय से आगे या पीछे होता है।
  • एक चित्र हज़ार शब्दों के बराबर होता है।
  • एक लेखक को अपने आँखों से लिखना चाहिए और एक चित्रकार को अपने कानो से चित्रकारी करनी चाहिए।

कवितासंपादित करें

बाहरी कडियाँसंपादित करें