जवाहरलाल नेहरु

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री

जवाहरलाल नेहरु (१४ नवम्बर १८८९ - २७ मई १९६४) एक भारतीय राजनेता एवं भारत गणराज्य के प्रथम प्रधानमन्त्री थे।

जवाहरलाल नेहरु

उक्तियाँसंपादित करें

  • एक ऐसा क्षण जो इतिहास में बहुत ही कम आता है, जब हम पुराने के छोड़ नए की तरफ जाते हैं, जब एक युग का अंत होता है, और जब वर्षों से शोषित एक देश की आत्मा, अपनी बात कह सकती है।
  • जब तक मैं स्वयं में आश्वस्त हूँ की किया गया काम सही काम है तब तक मुझे संतुष्टि रहती है।
  • संस्कृति मन और आत्मा का विस्तार है।
  • तथ्य तथ्य हैं और आपके नापसंद करने से गायब नहीं हो जायेंगे।
  • सुझाव देना और बाद में हमने जो कहा उसके नतीजे से बचने की कोशिश करना बेहद आसान है
  • नागरिकता देश की सेवा में निहित है।
  • संकट के समय हर छोटी चीज मायने रखती है।
  • संकट और गतिरोध जब वे होते हैं तो कम से कम उनका एक फायदा होता है कि वे हमें सोचने पर मजबूर करते हैं।
  • महान कार्य और छोटे लोग साथ नहीं चल सकते।
  • हर एक हमलावर राष्ट्र की यह दावा करने की आदत होती है कि वह अपनी रक्षा के लिए कार्य कर रहा है।
  • एक नेता या कर्मठ व्यक्ति संकट के समय लगभग हमेशा ही अवचेतन रूप में कार्य करता है और फिर अपने किये गए कार्यों के लिए तर्क सोचता है।
  • अज्ञानता बदलाव से हमेशा डरती है।

बाहरी कडियाँसंपादित करें

विकिपीडिया पर संबंधित पृष्ठ :