मुख्य मेनू खोलें

विकिसूक्ति β

हेलेन केलरसंपादित करें

  • यदि हम अपने काम में लगे रहे तो हम जो चाहें वो कर सकते हैं.
  • चरित्र का विकास आसानी से नहीं किया जा सकता. केवल परिक्षण और पीड़ा के अनुभव से आत्मा को मजबूत, महत्त्वाकांक्षा को प्रेरित, और सफलता को हासिल किया जा सकता है।
  • खुद की तुलना ज्यादा भाग्यशाली लोगों से करने कि बजाये हमें अपने साथ के ज्यादातर लोगों से अपनी तुलना करनी चाहिए.और तब हमें लगेगा कि हम कितने भाग्यवान हैं.
  • अकेले हम कितना कम हासिल कर सकते हैं , साथ में कितना ज्यादा.
  • मैं अकेली हूँ, लेकिन फिर भी मैं हूँ. मैं सबकुछ नहीं कर सकती, लेकिन मैं कुछ तो कर सकती हूँ, और सिर्फ इसलिए कि मैं सब कुछ नहीं कर सकती, मैं वो करने से पीछे नहीं हटूंगी जो…

कवितासंपादित करें

बाहरी कडियाँसंपादित करें